सोमवार, 19 जनवरी 2015

किन्नरों के संगीत पर एलबम जारी

अलग-अलग पृष्ठभूमि के नौ किन्नरों ने मिलकर एक संगीत एलबम जारी किया है, जिसे उन्होंने साथी किन्नरों के सशक्तिकरण के लिए अपनी यात्रा का हिस्सा बताया है। ‘सांग्स ऑफ कारवां’ नाम की इस एलबम का विमोचन यहां माकपा पोलित ब्यूरो की सदस्‍य वृंदा करात और स्वामी अग्निवेश ने किया। करात ने इस मौके पर किन्नरों के प्रति लोगों की संवेदनशीलता की कमी के बारे में बात की।
उन्होंने कहा, कई लोगों की मदद से इन किन्नरों ने ऐसी एलबम जारी की है जिससे भारतीय समाज के लिए यह संदेश जाता है कि इस समुदाय के पास अधिकार हैं और ये उन्हें अपने अधिकारों के लिए लड़ने में मदद करेंगे। एलबम में मणिपुर, महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, कोलकाता, कर्नाटक और तमिलनाडु का प्रतिनिधित्व करने वाले 13 गीत हैं।
संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के सहयोग से एलबम जारी किया गया है और प्लेनेट रोमियो फाउंडेशन ने जीवन ट्रस्ट तथा अभिव्यक्ति फाउंडेशन, इंडिया के सहयोग से इसे प्रायोजित किया है।
जीवन ट्रस्ट के निदेशक अनुभव गुप्ता ने कहा, किन्नरों के परंपरागत चित्रण को समाप्त करने का विचार है। किन्नरों को भारत में एक अलग अंदाज में और कुछ विशेष मौकों पर गाने वाले के तौर पर जाना जाता है और हमारी सोच वहीं तक सीमित है।
-एजेंसी